Fri. May 14th, 2021

It's All About Cinema

Sushant के कुक नीरज ने बताई सुशांत से जुड़ने से लेकर अंत तक की अपनी कहानी

1 min read

Advertisements

सुशांत केस में सीबीआई जांच तेजी से चल रही है. केस से जुड़े हर सदस्य से लंबी पूछताछ की जा रही है. Sushant के कुक नीरज से दो दिन लगातार पूछताछ की गई. वहीं इसके पहले मुम्बई पुलिस नीरज से पूछताछ कर चुकी है जिसमे उसने कई बड़े खुलासा किया हैं. ये बयान अब मीडिया के पास आ चुका है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उसने तीन पेज का बयान दिया था जिसमे उसने सुशांत के साथ अपने पूरे सफर के बारे में बताया है. सुशांत को लेकर भी उसने कई बड़े खुलासा किया है.

Sushant filmania magazine http://www.filmaniaentertainment.com/magazine/

हॉन्टेड था सुशांत का पुराना घर, अजीबोगरीब आवाजें आती थी

नीरज ने बताया, “मैं अप्रैल 2019 में हाउसकीपिंग स्टाफ के रूप में Sushant से जुड़ा था. मैं उनके पुराने कैप्री हाइट्स वाले घर पर काम करना शुरू किया था मेरा काम साफ सफाई, कुत्तों को टहलना, सुशांत सर को चाय खाना सर्व करना था. सुशांत सर दिसम्बर 2019 में माउंट ब्लांक अपार्टमेंट में शिफ्ट हुए थे. उनका पुराना घर हॉन्टेड था. हम सभी को वॉकी टॉकी के जरिये काम बताए जाते थे. एक दिन रात में उससे आवाज आई नीरज लाइट्स बन्द कर दो, मैं जब गया तो लाइट्स बन्द थी सर सो रहे थे. ऐसा रात में दो बार हुआ मैं डर गया था. लिफ्ट से भी अजीब सी आवाजें आती थीं. उस घर में बहुत सी डरावनी चीजें होती थी जिसको देखते हुए सर ने घर शिफ्ट कर लिया था.

शराब और गांजे वाली सिगरेट लेते थे सर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नीरज ने बताया कि Sushant गांजे वाली सिगरेट लेते थे. कभी सैमुअल जैकब तो कभी मैं उनके लिए रोल करते थे. हफ्ते में एक दो बार पार्टी करते थे वो शराब और गांजा लेते थे. सुसाइड के पहले मैंने तीन दिन के सिगरेट रोल करके रखे थे पर सुसाइड के बाद देखा तो डिब्बा खाली था. 8 जून को जब केशव ने डिनर बनाया हम सर्व करने जा रहे थे रिया मैम का गुस्से में फोन आया कि समान पैक कर दो. वो अपने भाई के साथ बिना डिनर किये चली गई. उसी दिन मीतू दीदी घर आई, सर उन्हीं के साथ खाना खाते थे वो जब 12 जून को चली गई तो वो मुझसे कहकर गई थी कि सर का ख्याल रखना. उसने बताया कि 14 जून को सुबह 8 बजे वो झाड़ू लगा रहा था सर बाहर आये मुझसे सफाई के बारे में पूछा और मुस्कुराकर चले गए. 9.30 बजे केशव सर के लिए केले, नारियल पानी ले गया पर उन्होंने केले नहीं लिए. 10.30 बजे जब केशव खाने के लिए पूछने गया तो दरवाजा लॉक था उसने आकर बताया दीपेश और सिद्धार्थ सब दरवाजा खटखटाने लगे फिर सिद्धार्थ ने चाबीवाले को बुलाकर गेट खुलवाया. कमरे में अंधेरा था सिद्धार्थ अंदर गया बाहर आ गया मैं और दीपेश अंदर गए तो देखा सुशांत सर का चेहरा खिड़की की तरफ था वो हरे रंग के कपड़े से पंखे से लटके थे. सिद्धार्थ ने मुझसे चाकू मंगाई और कपड़े को काटकर बॉडी को नीचे उतारा. मीतू दीदी चिल्लाई, “गुलशन ये तूने क्या किया.” सिद्धार्थ ने छाती पंप करने के कोशिश की, फिर पुलिस को बुलाया गया.

ये भी पढ़े भाई Neeraj ने सिद्धार्थ पिठानी और संदीप सिंह को सुशांत केस में बताया संदिग्ध, कहा गिरफ्तार करने के लिए

अमित चौरसिया


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *