Wed. Oct 5th, 2022

It’s All About Cinema

विवादों सें घिरी फिल्म ‘Gunjan Saxena’ पर भड़की रिटायर्ड विंग कमांडर आई के खन्ना

1 min read

निर्देशक शरण शर्मा की फिल्म ‘Gunjan Saxena-द करगिल गर्ल’, 12 अगस्त को ओटीटी प्लेटफार्म नेटफ्लिक्स पर रिलीज किया गया था. मुख्य भूमिका में बॉलीवुड की अभिनेत्री जाह्नवी कपूर समेत कई कलाकार इस फिल्म में काम करते दिखे हैं. ‘Gunjan Saxena’ के रिलीज के बाद ही यह फिल्म लगातार विवादों से घिरा हुआ है. जहां पहले भारतीय वायु सेना की ओर से इस फिल्म पर पत्र लिख कर आपत्ति जताई गई थी. अब वही भारतीय वायु सेना की पहली फीमेल बैच को प्रशिक्षित करने वाले रिटायर्ड विंग कमांडर आई के खन्ना ने भी सवाल उठाए है.

 'Gunjan Saxena' filmania magazine http://www.filmaniaentertainment.com/magazine/

आई के खन्ना ने दिया प्रतिक्रिया

हाल ही में रिटायर्ड विंग कमांडर आई के खन्ना ने एक कॉलम में लिख कर फिल्म ‘Gunjan Saxena’ पर अपनी प्रतिक्रिया जताते हुए लिखा है कि “मैं जुलाई 1994 में उन प्रशिक्षकों में से एक था, जब सात महिला पायलटों का पहला दल भारतीय वायुसेना के परिवहन विमान में प्रशिक्षण शुरू करने के लिए बेंगलुरु के येलहंका स्थित वायु सेना स्टेशन पर पहुंचा था. आश्चर्य है कि फिल्म की पटकथा को भारतीय वायुसेना के साथ साझा किया गया था. उनकी घड़ी के तहत, सभी महिला पायलटों को समान माना जाता था, और किसी को भी गुंजन सक्सेना में दिखाए गए अनुसार बदलने के लिए अपने कमरे तक नहीं जाना पड़ता था. लिंग पक्षपात भारतीय समाज में सदियों से रहा है, लेकिन महिलाएं कई वर्षो से कई क्षेत्रों में रक्षा सेवाओं का हिस्सा रही हैं. यह विश्वास करने के लिए कि गुंजन सक्सेना, या उस मामले के लिए किसी अन्य महिला पायलट, को हाथ से कुश्ती के अधीन किया गया था-जैसा कि उनके शो पर फिल्म थी”.

श्रीविद्या राजन थी पहली महिला पायलट

फ्लाइट लेफ्टिनेंट गुंजन सक्सेना के ही एक साथी अधिकारी श्रीविद्या राजन ने बताया कि वह एक युद्ध क्षेत्र में पहली महिला पायलट थी, ना कि गुंजन, जैसा कि फिल्म का दावा किया गया है. फिल्म में, गुंजन सक्सेना को कारगिल संचालन में उड़ान भरने वाली एकमात्र महिला पायलट के रूप में दिखाया गया था. यह वास्तविक रूप से गलत है. हम उधमपुर में एक साथ तैनात थे और जब कारगिल संघर्ष शुरू हुआ, तो मैं अपनी यूनिट की पहली टुकड़ी में श्रीनगर में तैनात पुरुष समकक्षों के साथ भेजने वाली पहली महिला पायलट थी.” सूत्र की माने तो जाह्नवी कपूर ने बयान दिया कि “उनकी मंशा भारतीय वायु सेना की छवि को ठेस पहुंचाने की नहीं थी”.

ये भी पढ़े, फिल्म पर आए विवाद को लेकर बोलीं गुंजन सक्सेना, कहा वायुसेना से मिला हमेशा सम्मान अवसर

Divyani Paul


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *