Mon. Nov 23rd, 2020

It's All About Cinema

रोमांस किंग हुए आज 55 साल के, बॉलीवुड के बादशाह Shahrukh खान का कुछ ऐसा रहा सफर

1 min read

करोड़ों लोगों के दिलों पर राज करने वाले बॉलीवुड के बादशाह Shahrukh खान का आज जन्मदिन है. किंग खान आज यानी 2 नवंबर को अपना 55 वां जन्मदिन मना रहे हैं. शाहरुख खान फिल्म इंडस्ट्री में एक ऐसा नाम है, जिसे हर कोई अपना आइडल मानता है. अभिनेता के जन्मदिन पर उनके फैंस की दीवानगी का आलम इस तरह होता है कि सोशल मीडिया से लेकर उनके बंगले मन्नत के बाहर उन्हें बर्थडे विश करने के लिए फैंस का हुजूम उमड़ पड़ता है. शाहरुख खान के प्रति लोगों की दीवानगी सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर के लोगों के सिर पर चढ़कर बोलती है. फैंस की दीवानगी आखिर हो भी क्यों ना? उन्होंने अपने फिल्मी कैरियर में काफी उतार-चढ़ाव देखते हुए कामयाबी हासिल की है. फिल्म इंडस्ट्री से कोई भी फिल्मी बैकग्राउंड ना होने के बावजूद भी उन्होंने अपना एक रुतबा फिल्मी दुनिया में कायम किया, जो कि काबिले तारीफ है. वह लगभग सभी शैलियों की फिल्में रोमांस, ड्रामा, कॉमेडी, एक्शन में काम कर चुके हैं. जिस कारण वह आज बॉलीवुड का बादशाह, किंग ऑफ बॉलीवुड, किंग खान भी कहे जाते हैं.

 Shahrukh filmania magazine http://www.filmaniaentertainment.com/magazine/

बॉलीवुड का बादशाह बनने का सफर भी अभिनेता का काफी दिलचस्प रहा है. बात है 1991 की जब शाहरुख खान दिल्ली से मुंबई आए थे. वहां भी वह गौरी को ढूंढने लगे. मुंबई जाने का सफर भी अभिनेता का उनकी प्रेमिका गौरी से मिलने को लेकर ही शुरू हुआ था. घर से उन्हें 10 हजार रुपए दिए गए थे और यह सारे पैसे उन्होंने गौरी को ढूंढने में ही खत्म कर दिया. एक वक्त ऐसा आलम आ गया था कि उनके पास ट्रेन से घर वापस जाने के लिए पैसे तक नहीं थे. सड़क पर सोना पड़ता था. जेब में सिर्फ 20 रुपए बाकी रह गए थे. उसी दौरान गुस्से में उन्होंने अपनी स्थिति देखते हुए कुछ ऐसी लाइन कही जो आज सफल होते हुए दिखता है. उन्होंने कहा था, ” इस शहर ने मुझे इतना तंग कर दिया है.. एक दिन मैं इस शहर का बादशाह कहलाआऊंगा. “
और आज Shahrukh खान इस कहावत का खुद जीता जागता उदाहरण है. शाहरुख खान को टीवी सीरियल फौजी और सर्कस से उस वक्त थोड़ी बहुत पहचान मिल गई थी. उसी दौरान उनकी मुलाकात बांद्रा में प्रोड्यूसर विवेक वासवानी से होती है, जो उनसे मिलने खुद आए थे. उन्होंने अभिनेता से पूछा कि क्या आप J. P सिप्पी के फिल्म में काम करेंगे. J. P सिप्पी एक ऐसे डायरेक्टर थे, जो शोले जैसे ब्लॉकबस्टर फिल्म देने के लिए प्रसिद्ध थे. शाहरुख खान को और क्या ही चाहिए था? जब खुद एक डायरेक्टर चलकर उनके पास आया था. उन्होंने J. P सिप्पी के ऑफिस जाकर 5 फिल्में साइन कर दी. रिस्क लेते हुए वो हेमा मालिनी से भी मिलने चले गए थे. हेमा मालिनी ने उनको देखकर बहुत ही अच्छा कॉन्प्लीमेंट दिया था. उन्होंने उनके लिए कहा था “I like your nose, it’s very aristocratic and you got into my film because of that” इस बात को कहते हुए हेमा मालिनी ने भी उनको अपनी फिल्म दिल आशियाना है के लिए कास्ट कर लिया था. फिर यहीं से शुरू हुई इनकी फिल्मी कैरियर की बेहतरीन आगाज. उन्होंने पहले फिल्म बतौर लीड एक्टर दीवाना से किया था, जो 1992 में रिलीज हुई थी. फिल्म पर्दे पर काफी सुपर डुपर हिट रही. इस फिल्म से ही शाहरुख खान की जिंदगी बदल गई थी और इसके बाद वह लगातार फिल्म देते गए. जिसके बाद उन्हें कामयाबी और प्यार दोनों प्रशंसकों से मिलता गया. अब तक शाहरुख से 80 से ज्यादा फिल्में कर चुके हैं. शुरुआती सफर में वह बाजीगर, डर, अंजाम जैसी फिल्मों में खलनायक जैसे भी किरदार निभाए तो वही उसके बाद उन्होंने रोमांटिक फिल्म करना शुरू कर दिया, जो कि पर्दे पर ब्लॉकबस्टर साबित हुई. जिसमें दिल वाली दुल्हनिया ले जाएंगे, दिल तो पागल है, कुछ कुछ होता है जैसे कई फिल्में दी. आज 21वी सदी में भी इन फिल्मों को याद करते हुए शाहरूख की तारीख बेशुमार की जाती है. फिल्मों के डायलॉग आज भी चर्चा में बनी रहती है. “राहुल नाम तो सुना ही होगा” आज भी यह डायलॉग प्रेम प्रसंगों के बीच छाया रहता है.

शाहरुख खान और गौरी खान के प्रेम प्रसंग के किस्से भी काफी रोमांचक रहा है. उनकी लव स्टोरी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है. शाहरुख खान ने सारी हदें पार कर दी थी गौरी को पाने के लिए. दोनों की शादी काफी कम उम्र में ही हुई थी तब शाहरुख बॉलीवुड में अपनी किस्मत आजमा रहे थे. तभी गौरी ने शाहरुख का हाथ थाम लिया था. बात है 1984 की जब दोनों की मुलाकात एक पार्टी के दौरान हुई थी, तब शाहरुख की उम्र केवल 18 वर्ष की थी. उससे दरमियां उन्होंने गौरी को अपना दिल दे दिया था. गौरी को भी शाहरुख की लॉयलिटी काफी पसंद थी. दोनों के बीच प्यार का उमराव होने के बाद शादी करने का फैसला लिया गया, लेकिन शादी होना इतना आसान नहीं था. दोनों के धर्म अलग थे. गौरी के परिवार वाले इस रिश्ते से नाखुश थे. दोनों के काफी पापड़ बेलने के बाद 1991 में कोर्ट मैरिज हुई. फिर उन्होंने हिंदू व मुस्लिम रीति रिवाजों के अनुसार शादी/ निकाह की. आज भी उन दोनों के रिश्ते में प्यार देखने को काफी मिलता है. शाहरुख अपनी पत्नी गौरी का काफी ख्याल रखते हैं. बॉलीवुड में अगर बेस्ट कपल की बात की जाए तो शाहरुख और गौरी का नाम जरूर आता है. वह कहते हैं ना “जोड़ियां ऊपर बनती है बस मिलना उसका धरती पर होना होता है ” गौरी और शाहरुख खान इसका बेहतरीन उदाहरण है.

फिल्म इंडस्ट्री में किसी बड़े स्टार की बात हो और अगर उसके जीवन से जुड़ी कुछ विवाद ना हो तो ऐसा हो ही नहीं सकता. Shahrukh खान भी काफी विवाद में रहे हैं. 2013 में अपने तीसरे बेटे अबराम के जन्म के दौरान उन पर लिंग जांच परीक्षण का आरोप लगा था. साल 2012 में शाहरुख खान फराह खान के पति शिरीष कुंदर को थप्पड़ मारने की वजह से काफी विवादों में बने रहे थे. कैटरीना कैफ के बर्थडे में सलमान खान से बहस होने के कारण दोनों में काफी लड़ाई हो गई थी. ऐसे ही तमाम उनके जीवन से जुड़े विवाद है, जो काफी चर्चा का विषय बना रहा है.

ये भी पढ़े, खलनायक से नायक तक हर किरदार को जीवंत करने वाले Naseeruddin Shah के जन्मदिवस पर पढ़े ये खास रिपोर्ट

रुमा सिंह


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *