Tue. Feb 7th, 2023

It's All About Cinema

Kangana ने अपने टूटे ऑफिस की तस्वीर को किया शेयर, लिखा- जो कभी मंदिर था उसे कब्रिस्तान बना दिया

1 min read

कंगना रनौत और शिवसेना के बीच काफी समय से जुबानी जंग छिड़ी हुई है. सोशल मीडिया के जरिए दोनों एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप कर रहे हैं. वहीं कंगना ने फिर से शिवसेना पर हमला बोला हैं. Kangana ने सोशल मीडिया पर अपने टूटे ऑफिस की तस्वीरों को शेयर करते हुए लिखा शिवसेना ने उनके मंदिर को कब्रिस्तान में बदलकर रख दिया है. जबसे कंगना ने मुंबई को पीओके कहा है तब से शिवसेना और कंगना के बीच एक जंग शुरू हो गयी है. बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने पिछले सप्ताह कंगना के पाली हिन्स स्थित मणिकर्णिका ऑफिस के कुछ हिस्सों को अवैध तरीके से बनवाने का नोटिस देने के बाद दूसरे ही दिन उसे गिरा दिया.

 Kangana filmania magazine http://www.filmaniaentertainment.com/magazine/

कंगना ने फोटो को किया सांझा

Kangana अपने टूटे हुए ऑफिस की तस्वीरों को ट्विटर पर शेयर किया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा “एक उम्र बीत जाती है घर बनाने में और तुम आह भी नहीं करते बस्तियां जलाने में यह देखो क्या से क्या कर दिया मेरे घर को क्या यह बलात्कार नहीं?” कंगना ने और भी फोटो शेयर करते हुए लिखा “ये बलात्कार है, मेरे सपनों का, मेरे हौसले का, मेरे आत्मसम्मान का और मेरे भविष्य का.”

कंगना ने शिवसेना पर बोला हमला

Kangana इतने पर ही नहीं रूकती हैं. उन्होंने #NationalUnemploymentDay17Sept का उपयोग कर शिवसेना पर हमला भी बोला है. आगे बात बढ़ाते हुए लिखा “मेरे कर्म स्थान को शमशान बना दिया, नजाने कितने लोगों का रोजगार छीन लिया, एक फिल्म यूनिट कई सौ लोगों को रोजगार देती है. एक फिल्म रिलीज़ होकर थियेटर से लेकर पॉपकॉर्न बेचने वाले का घर चलाती है, सभी से रोजगार छीन कर वो लोग आज राष्ट्रीय बेरोजगार मना रहे हैं.” टूटे हुए ऑफिस को लेकर कहा “बिना किसी सबूत के सभी फेमिनिस्ट्स ने मेरे घर को अवैध बताया, अगर मैं ये केस बीएमसी के खिलाफ जीतती हूं तो क्या वे मेरी नुकसान की भरपाई करेंगे, जो कि मैं जीतूंगी क्योकि मेरा केस बहुत मजबूत है. जो अदालत से निश्चित रूप से मिल जायेगा, क्या ये लोग तब मुझसे माफ़ी मागेंगे?”

ये भी पढ़े, Court ने रिया चक्रवर्ती की जमानत की याचिका को किया खारिज, कहा- सबूत के साथ छेड़छाड़ हो सकता है

मृत्युंजय चौधरी


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *